वर्तमान समयानुसार संगीत संस्थाआ ें के पाठ्यक्रम में बदलाव की आवश्यकता

प ्रो. कि ंशुक श्रीवास्तव
2017 Zenodo  
शिक्षा शब्द संस्कृत के 'शास' धातु से बना है जिसका अर्थ है शिक्षा देना, निर्देश द ेना, आज्ञा देना। शिक्षा एक ऐसी प्रक्रिया है जो ज्ञान विद्या अभ्यास व अनुभव से युक्त है जिसक े माध्यम से या ेग्य या अया ेग्य व्यक्ति की वृŸिायों का परिष्कार किया जा सकता है। वास्तव म ें शिक्षा का अर्थ ह ै किसी विद्यार्थी के सीखने की क्रिया। स्वामी विव ेकानन्द का मत है "मनुष्य की अन्तर्निहित पूर्णता को अभिव्यक्त करना ही शिक्षा है। शिक्षा का अंग्र ेजी अनुवाद म्कनबंजपवद है यह शब्द लैटिन भाषा से है, जिसका अर्थ है-
more » ... िसका अर्थ है- विकसित करना अथवा निकालना। "शिक्ष्यते उपदिश्यत े यत्र सा शिक्षा" अर्थात ् जिस माध्यम अथवा प्रणाली के द्वारा उपद ेश दिया जाता ह ै वहीं शिक्षा है। शिक्षा मानव के सर्वांगीण उन्नति का एक ऐसा आधार है जा े बालक के व्यक्तित्व के विकास का कारण बनती है। बालक म ें अन्तर्निहित जन्मजात शक्तिया ें का परिष्कार करके उनमें दा ेषपूर्ण शक्तिया ें का निराकरण करके तथा आन्तरिक गुणा ें को निखार के शिक्षा ही बालक के व्यक्तित्व का निर्मा ण करती है। स ंगीत शिक्षा:- प्राचीनकाल से ही भारतीय शिक्षा म ें संगीत एक महत्वपूर्ण अंग रहा है। संगीत एक उत्कृष्ट एवं प्राचीनतम ललित कलाओं म ें से है, जिसे सभी ललित कलाओं म ें सर्वश्रेष्ठ कहा गया है। इसके अन्तर्गत कल्पना सूझ, सन्तुलन, स्वाभाविकता, आत्माभिव्यक्ति, आत्मनियंत्रण, गति व्यायाम तथा और भी अनेक गुण इस विषय मंे समाहित हैं। द ूसरे शब्दों म ें कहा जा सकता है कि संगीत शिक्षण से शारीरिक बुद्धि का विकास, भावों का मार्गदर्शन, इच्छा का प्रशिक्षण, सहनशीलता का पाठ, प ्रदर्शन की योग्यता, उद्देश्य प्राप्ति क े लिए दृढ इच्छा का विकास होता है।
doi:10.5281/zenodo.884618 fatcat:elwwrfwt45honhurmlnta6tgvq